Aaj Kal Paon Zameen Par Lyrics

Aaj Kal Paon Zameen Par Lyrics

Aaj Kal Paon Zameen Par Lyrics from Ghar (1978) is an Old Hindi Romantic Song sung by Lata Mangeshkar. Aaj Kal Paon Zameen Par song lyrics are written by Gulzar while the music is produced by R.D. Burman. In this post, you will find the lyrics and the music video of Aaj Kal Paon Zameen Par Song featuring Vinod Mehra, Rekha.

Aaj Kal Paon Zameen Par Lyrics - Lata Mangeshkar - Ghar Movie Song
Aaj Kal Paon Zameen Par Lyrics – GHAR (1978)

Aaj Kal Paon Zameen Par Song Details

Song Title:Aaj Kal Paon Zameen Par
Singer:Lata Mangeshkar
Music:R.D. Burman
Lyrics:Gulzar
Featuring:Vinod Mehra, Rekha
Music Label:Saregama Music
Movie:Ghar (1978)
Director:Manik Chatterjee

Aaj Kal Paon Zameen Par Lyrics in Hindi

आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे
आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे
बोलो देखा है कभी तुमने मुझे उड़ते हुए

आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे

जब भी थामा है तेरा हाथ तो देखा है
जब भी थामा है तेरा हाथ तो देखा है
लोग केहते हैं की बस हाथ की रेखा है
हमने देखा है दो तकदीरों को जुड़ते हुए

आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे
बोलो देखा है कभी तुमने मुझे उड़ते हुए
आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे

नींद सी रेहती है हल्कासा नशा रेहता है
रात दिन आँखों में एक चेहरा बसा रेहता है
पर लगी आँखों को देखा है कभी उड़ते हुए, बोलो

आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे
बोलो देखा है कभी तुमने मुझे उड़ते हुए
आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे

जाने क्या होता है हर बात पे कुछ होता है
दिन में कुछ होता है और रात में कुछ होता है
थाम लेना जो कभी देखो हमें उड़ते हुए

आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे
बोलो देखा है कभी तुमने मुझे उड़ते हुए
आजकल पाव जमी पर नहीं पड़ते मेरे

Written By: Gulzar



Leave a Comment