Chehra hai ya chand khila lyrics

Chehra hai ya chand khila lyrics

(हो, चेहरा है या चाँद खिला है

ज़ुल्फ़ घनेरी शाम है क्या ) – २

सागर जैसी आँखों वाली  

ये तो बता तेरा नाम है क्या …

तू क्या जाने तेरी खातिर 

कितना है बेताब ये दिल 

तू क्या जाने देख रहा है 

कैसे कैसे ख्वाब ये दिल 

दिल कहता है … तू है यहाँ तो

जाता लम्हा थम जाये

वक़्त का दरिया बहते बहते 

इस मंजर में जम जाये

तूने दीवाना दिल को बनाया, 

इस दिल पे इल्ज़ाम है क्या, 

सागर जैसी आँखों वाली, 

ये तो बता तेरा नाम है क्या 

चेहरा है या …

हो, आज मैं तुझसे दूर सही 

और तू मुझसे अन्जान सही …

तेरा साथ नहीं पाऊं तो 

गैर तेरा अरमान सही …

ये अरमान हैं शोर नहीं हो

खामोशी के मेले हों 

इस दुनिया में कोई नहीं हो 

हम दोनो ही अकेले हों 

तेरे सपने देख रहा हूँ, 

और मेरा अब काम है क्या 

सागर जैसी आँखों वाली , 

ये तो बता तेरा नाम है क्या 

चेहरा है या …

Ho chehara hai ya chaand khila

Hai zulf ghaneri shaam hai kya

Saagar jaisi aankho waali

Yeh toh bata tera naam hai kya

Chehara hai ya chaand khila

Hai zulf ghaneri shaam hai kya

Saagar jaisi aankho waali

Yeh toh bata tera naam hai kya

Tu kya jaane teri khaatir

Kitna hai betaab yeh dil

Tu kya jaane dekh raha hai

Kaise kaise khwaab yeh dil

Dil kehta hai tu hai yaha toh

Jaata lamha tham jaaye

Wakt kaa dariya behte behte

Iss manzar mein jam jaaye

Tune deevaana dil ko banaaya

Iss dil par iljaam hai kya

Saagar jaisi aankho waali

Yeh toh bata tera naam hai kya

Ho aaj main tujhase door

Sahi aur tu mujhse anjaan sahi

Tera saath nahi paau toh

Khair tera armaan sahi

Yeh armaan hain shor nahi

Ho khamoshi ke mele ho

Iss duniya mein koyi nahi ho

Ham dono hi akele ho

Tere sapane dekh raha hoon

Aur mera abb kaam hai kya

Saagar jaisi aankho waali

Yeh toh bata tera naam hai kya

Chehara hai ya chaand khila hai

Zulf ghaneri shaam hai kya

Saagar jaisi aankho waali

Yeh toh bata tera naam hai kya.


Leave a Reply