You are currently viewing Mehroom Hua Na Dil Kabhi Lyrics From Click [English Translation]

Mehroom Hua Na Dil Kabhi Lyrics From Click [English Translation]

Mehroom Hua Na Dil Kabhi Lyrics From Click [English Translation]

Mehroom Hua Na Dil Kabhi Lyrics: Presenting the latest song ‘Mehroom Hua Na Dil Kabhi’ from the Bollywood movie ‘Click’ in the voice of Shreya Ghoshal, and Shaan. The song lyrics was written by Shabbir Ahmed and the music is composed by Shamir Tandon. It was released in 2010 on behalf of T-Series. This film is directed by Sangeeth Sivan.

The Music Video Features Shreyas Talpade & Sadaa

Artist: Shreya Ghoshal & Shaan

Lyrics: Shabbir Ahmed

Composed: Shamir Tandon

Movie/Album: Click

Length: 4:00

Released: 2010

Label: T-Series

Mehroom Hua Na Dil Kabhi Lyrics

तुम हो दिल तुम हो मेरी जान
तुम मिलो तो मिले दो जहा
तुम हो दिल तुम हो मेरी जान
तुम मिलो तो मिले दो जहा
मेरी आँखों का नज़ारा हो
मेरे जीने का सहारा हो
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी

ये इत्तेफाक तो है दिल के झरोके से
जब मैं कभी देखू तुम ही नजर रहो
अजनबी उलझन है यादो की झीलों में
क्यूँ ये आलम है कुछ हमें समझाओ
कैसा है ये रिश्तो का जहाँ जहाँ जहाँ
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी

मुज्धर धड़कन क्यू उल्झी है कदमो से
राह ये कैसी है है ये सफ़र कैसा
जज़बे-ए-महशर है गूंगी उम्मीदों में
दीवारों दर चुप है है ये शहर कैसा
ले चला सिलसिला कहा कहा कहा
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी

Screenshot of Mehroom Hua Na Dil Kabhi Lyrics

Mehroom Hua Na Dil Kabhi Lyrics English Translation

तुम हो दिल तुम हो मेरी जान
you are my heart you are my life
तुम मिलो तो मिले दो जहा
meet you where you meet
तुम हो दिल तुम हो मेरी जान
you are my heart you are my life
तुम मिलो तो मिले दो जहा
meet you where you meet
मेरी आँखों का नज़ारा हो
take a look at my eyes
मेरे जीने का सहारा हो
be my life support
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
Mehroom Mehroom Mehroom Hua Na Dil Kabhi
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
Mehroom Mehroom Mehroom Hua Na Dil Kabhi
ये इत्तेफाक तो है दिल के झरोके से
It’s a coincidence
जब मैं कभी देखू तुम ही नजर रहो
When ever I see you keep an eye
अजनबी उलझन है यादो की झीलों में
Stranger is confused in the lakes of memories
क्यूँ ये आलम है कुछ हमें समझाओ
Why is this alam, please explain to us something
कैसा है ये रिश्तो का जहाँ जहाँ जहाँ
How is this relationship of where the place is
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
Mehroom Mehroom Mehroom Hua Na Dil Kabhi
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
Mehroom Mehroom Mehroom Hua Na Dil Kabhi
मुज्धर धड़कन क्यू उल्झी है कदमो से
Why is Mujdhar Dhadkan confused with steps?
राह ये कैसी है है ये सफ़र कैसा
how is this road how is this journey
जज़बे-ए-महशर है गूंगी उम्मीदों में
Jazbe-e-Mahashar is dumb in hopes
दीवारों दर चुप है है ये शहर कैसा
How is this city silent after the walls?
ले चला सिलसिला कहा कहा कहा
Where did the series go?
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
Mehroom Mehroom Mehroom Hua Na Dil Kabhi
महरूम महरूम महरूम हुआ ना दिल कभी
Mehroom Mehroom Mehroom Hua Na Dil Kabhi


Leave a Reply