Raakh Ka dariya Lyrics In Hindi English || राख का दरिया || Socha Tha Kya Kya Ho Gaya || –

Raakh Ka dariya Lyrics In Hindi English || राख का दरिया || Socha Tha Kya Kya Ho Gaya || –

Raakh Ka dariya Lyrics In Hindi English

Summary : Raakh Ka dariya Song Velle Movie से है। इस गाने में Abhay Deol, Karan Deol, Anya Singh और Mouni Roy मुख्य भूमिका में है। इस गाने को Sohail Sen और Divya Kumar ने गाया और Music Sohail Sen ने दिया है। इस गाने के बोल Siddharth-Garima ने लिखे है।

About : Raakh Ka dariya Song

  • Song Title : Raakh Ka dariya
  • Movie : Velle (2021)
  • Singer : Sohail Sen, Divya Kumar
  • Music : Sohail Sen
  • Lyrics : Siddharth Garima
  • Cast : Abhay Deol, Karan Deol, Anya Singh, Mouni Roy
  • Label : Zee Music Company

Raakh Ka dariya (Official Video)

Raakh Ka dariya Lyrics In Hindi

सोचा था क्या क्या हो गया
सब बेवजह सा हो गया
सौ रास्ते सारे गलत
जो था सही कहीं खो गया

था खेल सब तो खेल में
रूठी कहाँ मनमानियां
नादानियाँ ये क्या हुई
दुश्वारियां अब यारियां

आसमानो से भी क्यूँ
तारे भी छीन गये
रात काली हैं अब
रोशन वो दिन गये

हैं अँधेरा घना
जाने हो किस तरह
वो सुबह, वो सुबह

हमसफ़र तनहा
दरबदर दुनिया
किस्मतें रुस्वा
कश्मकश गलियां

खनजली राहें
लम्हों में सदियां
नस्करी सांसें
गुमसुदा खुशियां

आग सीने में
ख़ाख़ जीने में
आख ये लम्हे
राख का दरिया

दिल समुन्दर हैं लहरें तूफ़ान
हैं हवा का भवंडर झोका
डूबने को है अपनी कश्तियाँ

बिन डोर की पतंगें हैं
बिन छोड़ की सुरंगे हैं
एक धूंध सी हैं छाई
अपनी आँखों में

हमसफ़र तनहा
दरबदर दुनिया
किस्मतें रुस्वा
कश्मकश गलियां

खानजली राहें
लम्हों में सदियां
नस्करी सांसें
गुमसुदा खुशियां

आग सीने में
ख़ाख़ जीने में
आख ये लम्हे
राख का दरिया

Raakh Ka dariya Lyrics In English

Socha tha kya kya ho gaya
Sab bewajah sa ho gaya
Sau raste saare galat
Jo tha sahi kahin kho gaya

Tha khel sab to khel mein
Ruthi kahan manmaaniyan
Nadaniyan ye kya hui
Duswariyan ab yaariyan

Asmaano se bhi kyun
Taare bhi chhin gaye
Raat kali hain ab
Roshan wo din gaye

Hain andhera ghana
Jaane ho kis tarah
Wo subah, wo subah

Humsafar tanha
Darbadar duniya
Kismate ruswa
Kasmkash galiyan

Khanjali raahein
Lamhon mein sadiyan
Naskari saansein
Gumsuda khusiyan

Aag seene mein
Khakh jeene mein
Aakh ye lamhe
Raakh ka dariya

Dil samundar hain lehre toofan
Hain hawa ka bhawandar jhoka
Doobne ko hain apani kashtiyan

Bin door ki patangen hain
Bin chood ki surange hain
Ek dhoondh si hain chhai
Apani ankhon mein

Humsafar tanha
Darbadar duniya
Kismate ruswa
Kasmkash galiyan

Khanjali raahein
Lamhon mein sadiyan
Naskari saansein
Gumsuda khusiyan

Aag seene mein
Khakh jeene mein
Aakh ye lamhe
Raakh ka dariya


Leave a Reply