Sab Kuchh Bhula Diya Song Lyrics in Hindi/English || खोए खोए दिन हैं || –

Sab Kuchh Bhula Diya Song Lyrics in Hindi/English || खोए खोए दिन हैं || –

Sab Kuchh Bhula Diya Song Lyrics in Hindi/English

Summary : Sab Kuchh Bhula Diya ये Song Hum Tumhare Hain Sanam इस फिल्म से है। इस फिल्म में Shahrukh Khan, Salman Khan और Madhuri Dixit मुख्य भूमिका में है। इस गाने को Sapna Awasthi Singh और Sonu Nigam ने गाया है। इस गाने के बोल Kartik Awasthi ने लिखे है और संगीत दीया है Bali Brahmbhatt ने।

About : Sab Kuchh Bhula Diya Song

Song Title : Sab Kuchh Bhula Diya  
Movie : Hum Tumhare Hain Sanam
Singer : Sapna Awasthi Singh And Sonu Nigam
Music : Bali Brahmbhatt
Lyricist : Kartik Awasthi
Starcast : Shahrukh Khan, Salman Khan And Madhuri Dixit
Director : K. S. Adhiyaman
Release date : 24 May 2002
Music Label : T-Series

Sab Kuchh Bhula Diya Song (Official Video)

Sab Kuchh Bhula Diya Song Lyrics in Hindi

हम ने तुम से तुम ने हमारा रिश्ता जोड़ा ग़म से
एक वफ़ा के सिवा कौन सी खता हुवी थी हमसे

कभी बंधन जुड़ा लिया कभी दामन छुड़ा लिया
कभी बंधन जुड़ा लिया कभी दामन छुड़ा लिया
कभी बंधन जुड़ा लिया कभी दामन छुड़ा लिया

ओह साथी रे कैसा सिला दिया यह वफ़ा का कैसा सिला दिया
कैसा सिला दिया यह वफ़ा का कैसा सिला दिया

तेरे वादे वो ईरादे तेरे वादे वो इरादे
ओह साथी रे सब कुछ भुला दिया यह वफ़ा कैसा सिला दिया
सब कुछ भुला दिया यह वफ़ा कैसा सिला दिया

मेरी यादों में तुम हो मेरी साँसों में तुम हो
मगर तुम जाने कैसी गलत फॅमिली में घूम हो
तुम्हारे घर को मंदिर देवता तुमको बना लिया
तुम्हारे घर को मंदिर देवता तुमको बना लिया

देवता तुमको बना लिया
तेरे वादे वो ईरादे तेरे वादे वो इरादे
ओह मिटवा रे सब कुछ भुला दिया यह वफ़ा कैसा सिला दिया
सब कुछ भुला दिया यह वफ़ा कैसा सिला दिया

उम्र भर सोना सकेगे किसी के होना सकेंगे
अजनबी तो हो जाऊं गैर हम हो न सकेंगे
किसी बेगाने की खातिर तुमने अपनों को भुला दिया
किसी बेगाने की खातिर तुमने अपनों को भुला दिया
तुमने अपनों को भुला दिया हैं तुमने अपनों को भुला दिया

तेरे वादे वो ईरादे तेरे वादे वो इरादे
ओह मिटवा रे सब कुछ भुला दिया यह वफ़ा कैसा सिला दिया
सब कुछ भुला दिया यह वफ़ा कैसा सिला दिया

अब मुझे जीना नहीं सनम यह ज़हर पीना नहीं सनम
अब मुझे जीना नहीं सनम यह ज़हर पीना नहीं सनम
जनम जनम का नाता चाँद लम्हों में मिटा दिया
जनम जनम का नाता चाँद लम्हों में मिटा दिया

चंद लम्हों में मिटा दिया
तेरे वादे वो ईरादे तेरे वादे वो इरादे
ओह साथी रे सब कुछ भुला दिया यह वफ़ा कैसा सिला दिया
सब कुछ भुला दिया
यह वफ़ा कैसा सिला दिया
कभी बंधन जुड़ा लिया
कभी दामन छुड़ा लिया
ओह साथी रे कैसा सिला दिया
यह वफ़ा का कैसा सिला दिया
कैसा सिला दिया यह वफ़ा का
कैसा सिला दिया
तेरे वादे वो ईरादे तेरे वादे वो इरादे

ओह साथी रे
सब कुछ भुला दिया
यह वफ़ा कैसा सिला दिया
सब कुछ भुला दिया यह वफ़ा कैसा सिला दिया
कैसा सिला दिया यह वफ़ा का कैसा सिला दिया
ओह मितवा रे कैसा सिला दिया
यह वफ़ा का कैसा सिला दिया
ओह मितवा रे कैसा सिला दिया
यह वफ़ा का कैसा सिला दिया ओह मितवा रे

Sab Kuchh Bhula Diya Lyrics in English

Hum ne tum se tum ne hamara rishta joda gham se
Ek wafa ke siwa kaun si khata huvi thi humse
Kabhi bandhan juda liya, kabhi daaman chuda liya
Kabhi bandhan juda liya, kabhi daaman chuda liya
Kabhi bandhan juda liya, kabhi daaman chuda liya

Oh saathi re kaisa sila diya yeh wafa ka kaisa sila diya
Kaisa sila diya yeh wafa ka kaisa sila diya

Tere vaade woh irade tere vaade woh irade
Oh saathi re sab kucch bhula diya yeh wafa kaisa sila diya
Sab kucch bhula diya yeh wafa kaisa sila diya

Meri yaadon mein tum ho meri saason mein tum ho
Magar tum jaane kaisi galat family mein ghoom ho
Tumhare ghar ko mandir devta tumko bana liya
Tumhare ghar ko mandir devta tumko bana liya

Devta tumko bana liya
Tere vaade woh irade tere vaade woh irade
Oh mitwa re sab kucch bhula diya yeh wafa kaisa sila diya
Sab kucch bhula diya yeh wafa kaisa sila diya

Umar bhar sona sakege,
kisi ke hona sakenge
Ajnabee to ho jaaon,
gair hum ho na sakenge
Kisi begaane ki khaatir tumne apno ko bhula diya
Kisi begaane ki khaatir tumne apno ko bhula diya
Tumne apno ko bhula diya haan tumne apno ko bhula diya

Tere vaade woh irade tere vaade woh irade
Oh mitwa re sab kucch bhula diya yeh wafa kaisa sila diya
Sab kucch bhula diya yeh wafa kaisa sila diya

Ab mujhe jeena nahin sanam,
yeh zaher peena nahin sanam
Ab mujhe jeena nahin sanam,
yeh zaher peena nahin sanam
Janam janam ka naata chand lamhon mein mita diya
Janam janam ka naata chand lamhon mein mita diya
Chand lamhon mein mita diya

Tere vaade woh irade tere vaade woh irade
Oh saathi re sab kucch bhula diya yeh wafa kaisa sila diya

Sab kucch bhula diya
Yeh wafa kaisa sila diya
Kabhi bandhan juda liya,
Kabhi daaman chuda liya
Oh saathi re kaisa sila diya,
Yeh wafa ka kaisa sila diya
Kaisa sila diya yeh wafa ka,
Kaisa sila diya tere vaade,
Woh irade tere vaade woh irade

Oh saathi re
Sab kucch bhula diya
Yeh wafa kaisa sila diya
Sab kucch bhula diya yeh wafa kaisa sila diya
Kaisa sila diya yeh wafa ka kaisa sila diya
Oh mitwa re kaisa sila diya,
Yeh wafa ka kaisa sila diya,
Oh mitwa re kaisa sila diya,
Yeh wafa ka kaisa sila diya oh mitwa re


Leave a Reply