You are currently viewing Taaron Ke Shehar Lyrics – Neha Kakkar & Jubin Nautiya / तारों के शहर

Taaron Ke Shehar Lyrics – Neha Kakkar & Jubin Nautiya / तारों के शहर

Taaron Ke Shehar Lyrics – Neha Kakkar & Jubin Nautiya / तारों के शहर

ना चैन से जीनें देगी

ना चैन से मरनें देगी

ना चैन से जीनें देगी

ना चैन से मरनें देगी

आ चल ले चलें तुम्हें

तारों के शहर में

धरती पे ये दुनियां

हमें प्यार ना करने देगी

Hmm….

चल ले चलें तुम्हें

तारों के शहर में

धरती पे ये दुनियां

हमें प्यार ना करनें देगी

जो तुम ना मेरी बाहों में

मैं तो से नहीं सकता

खुदा ने तुझको दिया मुझे

तुझे मैं खी नहीं सकता

मैं मर जाऊंगा अगर कभी

कहना पड़ गया ते सनम

मैं तेरा ही हूं

मगर तेरा हो नहीं सकता

हमें मार ही ना डाले

बुरी नजर ये लोगों की

ये हाथ छुड़ाएंगे

ना हाथ पकड़ने देगी

आ चल ले चलें तुम्हें

तारों के शहर में

धरती पे ये दुनियां

हमें प्यार ना करनें देगी

हो चल ले चलें तुम्हें

तारों के शहर में

धरती पे ये दुनियां

हमें प्यार ना करनें देगी

लोग हमसे जलते हैं

जलते हैं इस बात पे

क्यों इतने ज्यादा खूबसूरत

लगते हैं हम साथ में

लोग हमसे जलते हैं

जलते हैं इस बात पे

क्यों इतने ज्यादा खूबसूरत

लगते हैं हम साथ में

जो भी इश्क में होते हैं

होते है दीवानें से

खुशी नहीं देखी जाती

मोहब्बत की ज़माने से

मुझे पता है ओह जानम

चाहे कुछ भी हो जाए

तू खुद मर जाएगी

जानी न मारने देनी

चल ले चलें तुम्हें

तारों के शहर में

धरती पे ये दुनियां

हमें प्यार ना करनें देगी.


Leave a Reply